Skip to content

Products

  • Aadim Ratri Ki Mehak

    Original Price Rs. 395.00
    Current Price Rs. 316.00

    फणीश्वरनाथ रेणु के कथा साहित्य को आंचलिक कहा गया है किन्तु उनकी कहानियाँ (तथा उपन्यास भी) जहाँ एक ओर ग्राम्य-जीवन की आंचलिकता को ही नहीं उसकी सम्पू...

    View full details
  • Achchhe Aadmee

    Original Price Rs. 300.00
    Current Price Rs. 240.00

    रेणु ने अपने आत्म-कथ्य में चित्रागुप्त महाराज द्वारा निर्मित भाग्य-लेख के अंशों में अपना परिचय देते हुए कहा है कि यह आदमी ‘एक ही साथ सुर और असुर, स...

    View full details
  • Sold out

    Achchhe Aadmee

    Original Price Rs. 90.00
    Current Price Rs. 72.00

    रेणु ने अपने आत्म-कथ्य में चित्रागुप्त महाराज द्वारा निर्मित भाग्य-लेख के अंशों में अपना परिचय देते हुए कहा है कि यह आदमी ‘एक ही साथ सुर और असुर, स...

    View full details
  • Aginkhor

    Original Price Rs. 395.00
    Current Price Rs. 316.00

    हिन्दी भाषा फणीश्वरनाथ रेणु की ऋणी है उस शब्द सम्पदा के लिए जो उन्होंने स्थानीय बोली-परम्परा से लेकर हिन्दी को दी। नितान्त ज़मीन की खुशबू से रचे शब्...

    View full details
  • Sold out

    Atma Parichaya

    Original Price Rs. 125.00
    Current Price Rs. 100.00

    4 मार्च, 1921, शुक्रवार को पूर्णिया जिले (बिहार) के औराही - हिंगना नामक गाँव में जिस आदमी को ' धरती की माँग पर विशेष रूप से ' भेजा गया था, बाद में ...

    View full details
  • Deerghatapa

    Original Price Rs. 395.00
    Current Price Rs. 316.00

    दीर्घतपा आज के युग में जहाँ भ्रष्टाचार का बोलबाला हो, चरित्रहीनता पराकाष्ठा पर हो, अपने और पराये का भाव-बोध जड़ जमाए बैठा हो, चारों ओर ‘हाय पैसा, हा...

    View full details
  • Deerghatapa

    Original Price Rs. 150.00
    Current Price Rs. 120.00

    दीर्घतपा आज के युग में जहाँ भ्रष्टाचार का बोलबाला हो, चरित्रहीनता पराकाष्ठा पर हो, अपने और पराये का भाव-बोध जड़ जमाए बैठा हो, चारों ओर ‘हाय पैसा, हा...

    View full details
  • Juloos

    Original Price Rs. 395.00
    Current Price Rs. 316.00

    फणीश्वरनाथ ‘रेणु’ का सम्पूर्ण साहित्य राजनीति की मज़बूत बुनियाद पर स्थित है । उन्होंने सामाजिक बदलाव में साहित्य की भूमिका को कभी राजनीति से कमतर नह...

    View full details
  • Kitne Chaurahe

    Original Price Rs. 150.00
    Current Price Rs. 120.00

    कितने चौराहे' फणीश्वरनाथ रेणु का पठनीय लघु उपन्यास है । पहली बार यह 1966 में प्रकाशित हुआ । इस उपन्यास के वृत्तान्त में लेखक ने निजी जीवन की कई घटन...

    View full details
  • Kitne Chaurahe

    Original Price Rs. 300.00
    Current Price Rs. 240.00

    कितने चौराहे' फणीश्वरनाथ रेणु का पठनीय लघु उपन्यास है । पहली बार यह 1966 में प्रकाशित हुआ । इस उपन्यास के वृत्तान्त में लेखक ने निजी जीवन की कई घटन...

    View full details
  • Maila Anchal

    Original Price Rs. 399.00
    Current Price Rs. 319.20

    This social novel details the trials and tribulations of a small group of people in a remote village of North-East Bihar during the Quit India Move...

    View full details
  • Maila Anchal

    Original Price Rs. 895.00
    Current Price Rs. 716.00

    मैला आँचल हिन्दी का श्रेष्ठ और सशक्त आंचलिक उपन्यास है। नेपाल की सीमा से सटे उत्तर-पूर्वी बिहार के एक पिछड़े ग्रामीण अंचल को पृष्ठभूमि बनाकर रेणु ने...

    View full details
  • Paltu Babu Road

    Original Price Rs. 150.00
    Current Price Rs. 120.00

    पल्टू बाबू रोड' अमर कथाशिल्पी फनीश्वरनाथ रेणु का लघु उपन्यास है! यह उपन्यास पटना से प्रकाशित क पत्रिका 'ज्योत्स्ना' के दिसंबर, 1959 से दिसंबर, 1960...

    View full details
  • Paltu Babu Road

    Original Price Rs. 350.00
    Current Price Rs. 280.00

    पल्टू बाबू रोड' अमर कथाशिल्पी फनीश्वरनाथ रेणु का लघु उपन्यास है। यह उपन्यास पटना से प्रकाशित मासिक पत्रिका 'ज्योत्स्ना' के दिसंबर, 1959 से दिसंबर, ...

    View full details
  • Parti Parikatha

    Original Price Rs. 695.00
    Current Price Rs. 556.00

    इस उपन्यास को पढ़ते हुए प्रत्येक संवेदनशील पाठक स्पन्दनीय ज़िन्दगी के सप्राण पन्नों को उलटता हुआ-सा अनुभव करेगा। सहृदयता के सहज-संचित कोष के रस से ...

    View full details
  • Parti Parikatha

    Original Price Rs. 299.00
    Current Price Rs. 239.20

    परती परिकथा इस उपन्यास को पढ़ते हुए प्रत्येक संवेदनशील पाठक स्पन्दनीय ज़िन्दगी के सप्राण पन्नों को उलटता हुआ-सा अनुभव करेगा। सहृदयता के सहज-संचित क...

    View full details
  • Pratinidhi Kahaniyan : Phanishwarnath Renu

    Original Price Rs. 75.00
    Current Price Rs. 60.00

    प्रेमचंद के बाद हिंदी कथा-साहित्य में रेणु उन थोड़े-से कथाकारों में अग्रगण्य हैं जिन्होंने भारतीय ग्रामीण जीवन का उसके सम्पूर्ण आंतरिक यथार्थ के साथ...

    View full details
  • Pratinidhi Kahaniyan : Phanishwarnath Renu

    Original Price Rs. 195.00
    Current Price Rs. 156.00

    प्रेमचंद के बाद हिंदी कथा-साहित्य में रेणु उन थोड़े-से कथाकारों में अग्रगण्य हैं जिन्होंने भारतीय ग्रामीण जीवन का उसके सम्पूर्ण आंतरिक यथार्थ के साथ...

    View full details
  • Rinjal Dhanjal

    Original Price Rs. 300.00
    Current Price Rs. 240.00

    सन् 1966 का भयानक सूखा - जब अकाल की काली छाया ने पूरे दक्षिण बिहार को अपनी लपेट में ले लिया था और शुष्कप्राण धरती पर कंकाल ही कंकाल नजर आने लगे थे ...

    View full details
  • Sold out

    Rinjal Dhanjal

    Original Price Rs. 125.00
    Current Price Rs. 100.00

    सन् 1966 का भयानक सूखा - जब अकाल की काली छाया ने पूरे दक्षिण बिहार को अपनी लपेट में ले लिया था और शुष्कप्राण धरती पर कंकाल ही कंकाल नजर आने लगे थे ...

    View full details
  • Samay Ki Shila Par

    Original Price Rs. 895.00
    Current Price Rs. 716.00

    प्रख्यात कथाशिल्पी फणीश्वरनाथ रेणु ने रिपोर्ताज़ के बारे में अपनी राय इन शब्दों में व्यक्त की है - ‘‘गत महायुद्ध ने चिकित्साशास्त्र के चीर-फाड़ (शल्य...

    View full details