First Floor, Pant Properties, Plot No. 2 & 3, A-1 Block, Budh Bazar Rd, Gandhi Chowk, Mohan Garden, Uttam Nagar, New Delhi, Delhi 110059 110059 Delhi IN
Bookish Santa
First Floor, Pant Properties, Plot No. 2 & 3, A-1 Block, Budh Bazar Rd, Gandhi Chowk, Mohan Garden, Uttam Nagar, New Delhi, Delhi 110059 Delhi, IN
+918851222013 https://www.bookishsanta.com/s/63fe03d26a1181c480898883/63ff598ca28ce28f2242c957/logo_red-480x480.png" [email protected]
9788180311185 6422bc2dd6b8b6028330ea33 Path Ke Sathi https://www.bookishsanta.com/s/63fe03d26a1181c480898883/6422bc2ed6b8b6028330ea8d/book-rajkamal-prakashan-9788180311185-19145179234470.jpg
पथ के साथी पथ के साथी में महादेवी वर्मा ने अपने समकालीन रचनाकारों का चित्रण किया है। जिस सम्मान और आत्मीयता के साथ उन्होंने उन महत्त्वपूर्ण साहित्यकारों का जीवन-दर्शन और स्वभावगत महानता को स्थापित किया है, वह अपने आपमें बड़ी उपलब्धि है। पथ के साथी में संस्मरण भी हैं और महादेवीजी द्वारा पढ़े गए कवियों के जीवन-पृष्ठ भी। उन्होंने एक ओर इन साहित्यकारों की निकटता, आत्मीयता और प्रभाव का कलात्मक उल्लेख किया है, तो दूसरी ओर उनके समग्र जीवन-दर्शन को परखने का प्रयत्न किया है। यह प्रयत्न महादेवी के चिंतन, अनुभूति और दृष्टिकोण की विशद विशेषताओं को रेखांकित करता है। पथ के साथी में रवीन्द्रनाथ ठाकुर, मैथिलीशरण गुप्त, जयशंकर प्रसाद, सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला, सुमित्रानंदन पंत, सुभद्राकुमारी चौहान तथा सियारामशरण गुप्त के उत्कृष्ट शब्द-चित्र हैं। साथ ही इन साहित्यकारों के महादेवी वर्मा द्वारा बनाए रेखांकन तथा उन सभी के अपने हस्ताक्षरयुक्त हस्तलेख भी दिए गए हैं

9788180311185
in stock INR 316
Rajkamal Prakashan
1 1

पथ के साथी पथ के साथी में महादेवी वर्मा ने अपने समकालीन रचनाकारों का चित्रण किया है। जिस सम्मान और आत्मीयता के साथ उन्होंने उन महत्त्वपूर्ण साहित्यकारों का जीवन-दर्शन और स्वभावगत महानता को स्थापित किया है, वह अपने आपमें बड़ी उपलब्धि है। पथ के साथी में संस्मरण भी हैं और महादेवीजी द्वारा पढ़े गए कवियों के जीवन-पृष्ठ भी। उन्होंने एक ओर इन साहित्यकारों की निकटता, आत्मीयता और प्रभाव का कलात्मक उल्लेख किया है, तो दूसरी ओर उनके समग्र जीवन-दर्शन को परखने का प्रयत्न किया है। यह प्रयत्न महादेवी के चिंतन, अनुभूति और दृष्टिकोण की विशद विशेषताओं को रेखांकित करता है। पथ के साथी में रवीन्द्रनाथ ठाकुर, मैथिलीशरण गुप्त, जयशंकर प्रसाद, सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला, सुमित्रानंदन पंत, सुभद्राकुमारी चौहान तथा सियारामशरण गुप्त के उत्कृष्ट शब्द-चित्र हैं। साथ ही इन साहित्यकारों के महादेवी वर्मा द्वारा बनाए रेखांकन तथा उन सभी के अपने हस्ताक्षरयुक्त हस्तलेख भी दिए गए हैं

Author Mahadevi Verma
Language Hindi
Publisher Lokbharti Prakashan
Isbn 13 9788180311185
Pages 90
Binding Hardcover
Stock TRUE
Brand Rajkamal Prakashan