M. F. Husain: Kala Ka Karmyogi (M. F. Husain: A Pictorial Tribute) (Bahuvachan)

by Bhuvendra Tyagi (Translator) by Pradeep Chandra
No reviews
Regular price
Rs. 596.25
Regular price
Rs. 795.00
Sale price
Rs. 596.25
Condition
Condition Chart for Books

मकबूल फिदा हुसेन: इस नाम से जुड़े अनगिनत खयाल और किस्से उन लोगों के जहन में हैं, जो किंवदंती बन चुके इस कलाकार की शख्सियत से वाकिफ हैं। माहिर चित्रकार, रंगीन व्यक्तित्व, अलग किस्म के फिल्मकार, महंगी से महंगी जिसकावर्णनों के आशिक, नंगे पांवों चलने वाले चित्रकार, प्रेरणा देने वाली महिलाओं के बड़े कद्रदान - ये थे हुसेन! वे उन लोगों के लिए भी एक पहेली थे, जो उन्हें अच्छी तरह जानते थे। इसमें कोई संदेह नहीं कि हुसेन दुनिया के महानतम चित्रकारों में एक हैं। उनकी कला को समझने की कोशिश में कई किताबें लिखी गयी हैं, मगर इस किताब में अलग नजरिया है। इसमें हुसेन के अनेक आयामों और उनके चित्रकार के पीछे के शख्स को सामने लाने की कोशिश की गयी है। एम.एफ. हुसेन दरअसल रंक से राजा बनने की एक प्रेरक कथा है। वे हमेशा सच्चे कलाकार रहे। होर्डिंग बनाने, फर्नीचर डिजाइन करने, फिल्में बनाने या खाना बनाने में भी उनका हुनर साफ नजर आता था। रचनात्मक अभिव्यक्ति मकबूल के चित्रों में ही नहीं, बल्कि खुद को बड़ा दर्जा देने वाले स्थानों और लोगों के प्रति प्रेम में भी नजर आती थी। उनके चित्रों, रुचियों, निजी जीवन और दुखों पर रोशनी डालने वाली अनेक घटनाएं हैं। इस किताब में उनके जीवन के इन्हीं किस्सों के जरिये इस बहुआयामी कलाकार के व्यक्तित्व पर रोशनी डालने की कोशिश की गई है।


A master painter, a colourful persona, a filmmaker with a difference, a lover of the most expensive cars on Earth, a painter who preferred to walk barefoot—maqboolfida Husain was an enigma even to those who knew him best. M. F Husain was an inspiring story of rags-to-riches. Through it all, he remained a true artist, whether painting hoardings, designing furniture or making films. That Husain was one of the greatest artists in the world is beyond doubt. His expression of creativity can be seen not only in his paintings but also in the love he had for the places and people that shaped his legendary status. In this richly photographed book, Pradeep Chandra pays tribute to M. F Husain, an artist who he has been photographing for decades. Chandra paints a picture of the man behind the artist in an attempt to understand the legendary painter through his work, installations, cinema, family, friends, the women who inspired him and his undying love of art. It celebrates the life of a great artist and a great man, whose passing has left a lacuna in the world of art and in the lives of those who love and admire him.

More Information:

Publisher: Niyogi Books Private Limited
Language: Hindi
Binding: Hardcover
Pages: 164
ISBN: 9789386906564