Skip to content

Urdu ki Behaterin Shayari: Hindi Mein Prakashit Ab Tak Ka Ekamatra Praamaanik Sankalan

(Paperback Edition)

by Prakash Pandit
Sold out
Original price Rs. 110.00
Current price Rs. 99.00


* Eligible for Free Shipping
* 10 Days Easy Replacement Policy
* Additional 10% Saving with Reading Points
(View Condition Chart)

हिन्दी में प्रकाशित अब तक का एकमात्र प्रामाणिक संकलन उम्रे - दराज मांग कर लाए थे चार दिन दो आरज़्ाू में कट गए, दो इन्तिज़्ाार में। बहादुरशाह ‘ज़फ़र’ उर्दू शायरी समंदर के समान है, जिसका ओर - छोर भी दिखाई नहीं पड़ता, गहराई भी ग़ज़ब की होती है। ऐसे अंबार में से शायरी के हीरे - मोती तलाश करना तो किसी बेहद क़ाबिल उस्ताद का ही काम हो सकता है। वह है प्रकाश पंडित, जिन्होंने वास्तव में समूची उर्दू शायरी को देवनागरी में सजाकर हिन्दी के पाठकों के लिए बहुत बड़ा काम किया है। उनके द्वारा तैयार किए गए शायरी के दर्जनों संकलन पिछले 50 वर्षों से लोकप्रियता के शिखर पर खड़े हैं। उन्हीं में से एक है, सदाबहार संकलन ‘उर्दू की बेहतरीन शायरी’, जिसे लाखों पन्नों में फैली शायरी में से चुनकर इकट्ठा किया है। इसमें बेहतरीन नज़्मों, ग़ज़लों, रुबाइयों, कत’ओं और शे’रों का ख़ज़ाना है, जो उर्दू शायरी की एक मुकम्मल और बेहतर तस्वीर सामने रख देता है।


Related Categories: Hindi Books Newest Products Pre-Loved Books

More Information:
Publisher: Hind Pocket Books
Language: Hindi
Binding: Paperback

ISBN: 9788121617130

Customer Reviews

No reviews yet
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Customer Reviews

No reviews yet
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)